Republic Day Speech in Hindi

Republic Day in Hindi गणतंत्र दिवस 2017, 68वाँ गणतंत्र दिवस, 26 जनवरी

Republic Day in Hindi ,गणतंत्र दिवस 2017, 68वाँ गणतंत्र दिवस, 26 जनवरी 2017 Republic Day Speech in Hindi Republic Day Gantantra Diwas

Republic Day Gantantra Diwas 68वाँ गणतंत्र दिवस

गणतन्त्र दिवस 26 जनवरी 2017

26 जनवरी भारत में राष्ट्रीय पर्व गणतन्त्र दिवस के रूप में हर वर्ष मनाया जाता हैं क्योकिं इस दिन सन 1950 में भारत ने अपना संविधान लागू किया गया था। भारत में वर्ष 2017 का गणतंत्र दिवस 26 जनवरी गुरूवार को मनाया जा रहा है। भारत इस वर्ष 68 वा गणतन्त्र दिवस मानाने के लिए तैयारीयों कर रहा हैं इस महत्वपूर्ण राष्ट्रीय पर्व पर भारत के राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी देश को सम्बोधित कर राष्ट्रीय ध्वजारोहण करेंगे और स्टेज पर भाषण देंगे | इसी दिन प्रधान मंत्री भी भाषण के माध्यम से देश कई जनता का सम्बोधन करेंगे और कुछ देश वासियों के लिए नई योजनाओ की घोषणा करते हैं

गणतंत्र दिवस परेड के मुख्य अतिथि
भारत देश मुख्य अतिथि की परम्परा शुरू से ही हैं भारत में स्वतंत्रता दिवस हो या फिर गणतन्त्र दिवस इसमें विदेश के प्रधानमन्त्री व राष्ट्रपति को मुख्य अतिथि बनाने के लिए निमंत्रित किया जाता हैं इस बार अबूधाबी के शहजादे मोहम्मद बिन जायेद अल नाहयान गणतंत्र दिवस (26 जनवरी 2017) की परेड में मुख्य अतिथि होंगे।

गणतन्त्र क्यों मनाया जाता हैं
भारत का एक राष्ट्रीय पर्व जो प्रति वर्ष 26 जनवरी को मनाया जाता है। इसी दिन सन 1950 को भारत का संविधान लागू किया गया था। 26 नवम्बर 1949 को भारतीय संविधान सभा द्वारा इस संविधान को अपनाया गया और 26 जनवरी 1950 को इसे एक लोकतांत्रिक सरकार प्रणाली के साथ लागू किया गया था। 26 जनवरी को इसलिए चुना गया था क्योंकि 1930 में इसी दिन भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने भारत को पूर्ण स्वराज घोषित किया था।

...

गणतंत्र दिवस समारोह

गणतंत्र दिवस समारोह 26 जनवरी को भारत के राष्ट्रपति द्वारा भारतीय राष्ट्र ध्वज को फहराया जाता हैं और इसके बाद सामूहिक रूप में खड़े होकर राष्ट्रगान गाया जाता है। गणतंत्र दिवस को पूरे देश में विशेष रूप से राजधानी दिल्ली में बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है। इस अवसर के महत्व को चिह्नित करने के लिए हर साल एक भव्य परेड इंडिया गेट से राष्ट्रपति भवन (राष्ट्रपति के निवास) तक राजपथ पर राजधानी, नई दिल्ली में आयोजित किया जाता है। इस भव्य परेड में तीनों भारतीय सेना के विभिन्न रेजिमेंट, वायुसेना, नौसेना आदि सभी भाग लेते हैं| इस समारोह में भाग लेने के लिए देश के सभी हिस्सों से राष्ट्रीय कडेट कोर व विभिन्न विद्यालयों से बच्चे आते हैं, समारोह में भाग लेना एक सम्मान की बात होती है |परेड प्रारंभ करते हुए प्रधानमंत्री अमर जवान ज्योति (सैनिकों के लिए एक स्मारक) जो राजपथ के एक छोर पर इंडिया गेट पर स्थित है पर पुष्प माला चढ़ाते हैं| इसके बाद शहीद सैनिकों की स्मृति में दो मिनट मौन रखा जाता है। यह देश की संप्रभुता की रक्षा के लिए लड़े युद्ध व स्वतंत्रता आंदोलन में देश के लिए बलिदान देने वाले शहीदों के बलिदान का एक स्मारक है। इसके बाद प्रधानमंत्री, अन्य व्यक्तियों के साथ राजपथ पर स्थित मंच तक आते हैं, राष्ट्रपति बाद में अवसर के मुख्य अतिथि के साथ आते हैं।परेड में विभिन्न राज्यों से चलित शानदार प्रदर्शनी भी होती है, प्रदर्शनी में हर राज्य के लोगों की विशेषता, उनके लोक गीत व कला का दृश्यचित्र प्रस्तुत किया जाता है। हर प्रदर्शिनी भारत की विविधता व सांस्कृतिक समृद्धि प्रदर्शित करती है। परेड और जुलूस राष्ट्रीय टेलीविजन पर प्रसारित होता है और देश के हर कोने में करोड़ों दर्शकों के द्वारा देखा जाता है।भारत के राष्ट्रपति व प्रधान मंत्री द्वारा दिया गये भाषण को सुनने के लाखों कि भीड़ लाल किले पर एकत्रित होती है।देश के लिए अपना जीवन बलिदान करने वाले सेना बलों के सभी जवानों को सम्मान देने के लिए प्रधानमंत्री द्वारा इंडिया गेट पर पुष्पांजलि अर्पण करने के साथ समारोह का प्रारंभ होता है। पुष्पांजलि के बाद, 21 तोपों की सलामी दी जाती है और राष्ट्रगान होता है। इसके बाद, साहस और वीरता के कार्यों के लिए सेना और जनता के कुछ सदस्यों को वीरता पुरस्कार प्रदान किये जाते हैं। यह पूरा होने के बाद, परेड शुरू होता है।

गणतंत्र दिवस पर निबंध Gantantra Diwas Essay Nibandh in Hindi 
हमारे भारत देश में गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को हर वर्ष मनाया जाता हैं भारत ने अपने सविधान को इसी दिन 1950 को कानूनी रूप से लागू किया गया था इस वर्ष 2017 को भारत अपना 68 वां गणतंत्र दिवस मनायेगा | भारत का नया संविधान अपनाकर नए युग का सूत्रपात किया गया था । यह भारतीय जनता के लिए स्वाभिमान का दिन था । संविधान के अनुसार डॉ. राजेन्द्र प्रसाद स्वतंत्र भारत के प्रथम राष्ट्रपति बने । जनता ने देश भर में खुशियाँ मनाई । तब से 26 जनवरी को हर वर्ष गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता रहा है । इस गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि के रूप में आबूधाबी के शहजादे मोहम्मद बिन जायेद अल नाहयान को आमंत्रित किया गया हैं इस दिन पर भारत के राष्ट्रपति के समक्ष नई दिल्ली के राजपथ (इंडिया गेट ) पर परेड का आयोजन होता है। इस दौरान तीनों भारतीय सेनाओं (थल, जल, और नभ) द्वारा राष्ट्रपति को सलामी दी जाती है और विभिन्न राज्यों से तरह तरह की झांकियो का आयोजन किया जाता हैं और अपने संस्कृति और परंपरा से सभी को अवगत कराया जाता हैं इसके बाद, भारतीय वायु सेना द्वारा हमारे राष्ट्रीय झंडे के रंगों (केसरिया, सफेद, और हरा) की तरह आसमान से फूलों की बारिश की जाती है |इस दिवस समारोह के दिन भारत के सभी विभागों में यह हर्सोलास के साथ मनाया जाता हैं इस दिन स्कुलो ,विद्यालयों ध्वजारोहण रोहण कर राष्ट्र गान “जन गन मन अधिनायक “गाया जाता हैं और कई तरह के सांस्क्रतिक कार्यकर्मो और प्रतियोगिताओ का आयोजन किया जाता हैं और बच्चो को पुरस्कार व मिठाई बांटी जाती हैं

Most Popular On JobsHint
गणतंत्र दिवस पर कविता बधाई सन्देश मेसेज Republic D... गणतंत्र दिवस पर कविता वह खून कहो किस मतलब का जिसमें उबाल का नाम नहीं। वह खून कहो किस मतलब का आ स...

Leave a Reply